Diabetes (मधुमेह)

Spread the love
  •  
  • 23
  •  
  •  
  •  
    23
    Shares

नवग्रह आश्रम की जानकारी हेतु, दिए गए लिंक पर क्लिक करें

To know more about Navgrah Ashram, Please click on the following link

हरी गुड़मार की एक पत्ती  ( गीले कपड़े में रखे हुए ) खाना खाने के 45 मिनट पहले चबा- चबा कर खाने से शुगर कन्ट्रोल हो जाती है।

नोट
ये पत्ते आपका शुगर लेवल (खाना खाने के बाद) 225 तक न आ जाये तब तक खाने हैं ।
उसके पश्चात ये चुर्ण बना कर खाना है।

1. गुड़मार के सूखे पत्ते      100 ग्राम

2. जामुन के सूखे पत्ते        100 ग्राम

3. बिल पत्र के सूखे पत्ते     100 ग्राम

4. आंवला सूखा               100 ग्राम

5. मेथीदाना                     100 ग्राम

6. नीम की सूखी पत्ती 
     या सूखा करेला            100 ग्राम 

सभी को कूट छान कर डिब्बे में भर लें।
मात्रा :- प्रातः काल भोजन या नाश्ते से 45 मिनट पूर्व 5 ग्राम (एक चम्मच)
और रात्रि भोजन के 45 मिनट पहले 5 ग्राम  (एक चम्मच)

नोट
अगर आप परामर्श हेतु वैद्य श्रीमान् हंसराज जी चौधरी साहब से मिलना
और दवा लेना  चाहें तो नवग्रह आश्रम,  मोती बोर का खेड़ा , सिर्फ रविवार को ही
प्रातः 6 बजे से सायं 6 बजे तक आश्रम पर दिखा सकते हैं ।
अगर आपके पास रोगी की कोई जांच रिपोर्ट है तो साथ लेते आएं रोगी को साथ लाना आवश्यक नहीं ।

“अलसी एक अमृतमयी चमत्कारी औषधी :”

विभिन्न प्रकार की बिमारियों में अलसी का काढ़ा पिएँ ।

101℅ बिना-चिरफाड़ यानी ऑप्रेशन के बिल्कुल स्वस्थ हो जाएँगे।

कैसे बनायें काढा :
2 चमच अलसी + 2 ग्लास पानी मिक्स करके उबालें। जब अाधा पानी बचे तब सुबह खाली पेट छानकर पियें।

विविध नाम :
1.अलसी
2. फ्लेक्स सीड्स
3. लिन सिड्स

अलसी से आप सभी परिचित होंगे लेकिन इसके चमत्कारी फायदे से बहुत ही कम लोग जानते हैं।

हम आज अलसी के फायदे के बारे में जो बता रहें हैं उनके बारे में जानकर और अपनाकर आप जरुर रोग मुक्त हो जायेगें।

अलसी शरीर को स्वस्थ रखती है व आयु बढ़ाती है।

अलसी में
?23℅ ओमेगा-3 फेटी एसिड
? 20℅ प्रोटीन,
?27℅ फाइबर, लिगनेन,
विटामिन बी ग्रुप, सेलेनियम,
पोटेशियम, मेगनीशियम,
जिंक आदि होते हैं।
?अलसी में रेशे भरपूर 27% ?शर्करा 1.8% यानी नगण्य
होती है। इसलिए यह
शून्य-शर्करा आहार कहलाती
है और मधुमेह रोगियों के
लिए आदर्श आहार है।

इससे होनेवाले लाभ

1. ब्लड शुगर :
अगर किसीको ब्लड शुगर, (डायाबिटिज) की तकलीफ है तो आपके लिये अलसी किसी वरदान से कम नहीं है।

2. थाईराईड :
सुबह खाली पेट २ चमच अलसी लेकर २ ग्लास पानी में उबालें, जब आधा पानी बचे तब छानकर पियें।

यह दोनों प्रकार के थाईराईड में बढ़िया काम करती है।

3. हार्ट ब्लोकेज :
३ महिना अलसी का काढ़ा उपर बताई गई विधि के अनुसार करने से आपको ऐन्जियोप्लास्टि कराने की जरुरत नहीं पड़ती।

4. लकवा, पैरालिसीस :
पैरालिसीस होने पर ऊपर बताई गई विधि से काढ़ा पीने से लकवा ठीक हो जाता है।

5. बालों का गिरना :
अलसी को आधा चम्मच रोज सुबह खाली पेट सेवन करने से बाल गिरने बंद हो जाते हैं।

6. जोडों का दर्द :
अलसी का काढ़ा पीने से जोड़ों का दर्द दूर हो जाता है। साईटिका, नस का दबना वगैरा में लाभकारी।

7. अतिरिक्त वजन :
अलसी का काढ़ा पीने से शरीर का अतिरिक्त वजन दूर होता है। नित़्य इसका सेवन करें, निरोगी रहें।

8. केन्सर :
किसी भी प्रकार के केन्सर में अलसी का काढ़ा सुबह-शाम दो बार पिऐं जिससे असाधारण लाभ निश्चीत है।

9. पेट की समस्या :
जिन लोगों को बार-बार पेट के जुड़े रोग होते हैं उनके लिये अलसी रामबाण ईलाज है। अलसी कब्ज, पेट का दर्द आदि में फायदाकारक है।

10. बालों का सफेद होना :
एक व्यक्ति ने मुझे बताया कि उसने मेरे बताने के अनुसार तीन महिने अलसी का काढा पीया तो उसके सफेद बाल भी धीरे-धीरे काले होने लगे।

11. सुस्ति, आलस, कमजोरी:
अलसी का काढा पीने से सुस्ती, थकान, कमजोरी दूर होती है।

12. किसी भी प्रकार की गांठ :
सुबह शाम दो समय अलसी का काढ़ा बनाकर पीने से शरीर में होने वाली किसी भी प्रकार की गांठ ठीक हो जाती है।

13. श्वास-दमा कफ, ऐलर्जीँ :
अलसी का काढ़ा रोज सुबह शाम २ बार लेने से श्वास, दमा, कफ, ऐलर्जीँ के रोग ठीक हो जाते हैं।

14. ह्दय की कमजोरी :
ह्दय से जुड़ी किसी भी समस़्या में अलसी का काढ़ा रामबाण ईलाज है।

जिन लोगों को ऊपर बताई गई समस़्या में से एक भी तकलीफ है तो आपके पास इसका रामबाण इलाज के रुप में अलसी का काढा है। कृपया आप इसका सेवन करें आैर स्वस्थ रहें।

मधुमेह की समस्याएं और समाधान
मधुमेह की समस्याएं और समाधान

सुगर ठीक करता है और किडनी को मजबूत करता है, फूल मखाना |

FOXNUT YOUTUBE पर सर्च करके देख सकते हैं
फूल मखाना ( Foxnut ) कैसा होता है।

फूल मखाना तालाब, झील, दलदली क्षेत्र के शांत पानी में उगने वाला फूल मखाना पोषक तत्वों से भरपुर एक जलीय उत्पाद है।

( फूल मखाना )

आप फूल मखाने के चार दानों का सेवन करके शुगर से हमेशा के लिए निजात पा सकते है। इसके सेवन से शरीर में इंसुलिन बनने लगता है और शुगर की मात्रा कम हो जाती है। फिर धीरे-धीरे शुगर रोग भी खत्म हो जाता है।

सेवन की विधि

अगर आप जल्द से जल्द मधुमेह को खत्म करना चाहते है तो सुबह खाली पेट चार दाने मखाने खाएं। इनका सेवन कुछ दिनों तक लगातार करें। इससे मधुमेह का रोग तेजी से खत्म होगा।

दिल के लिए फायदेमंद

फूल मखाना केवल शुगर के मरीज के लिए ही नहीं बल्कि हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारियों में भी फायदेमंद है। इनके सेवन से दिल स्वस्थ रहता है और पाचन क्रिया भी दुरूस्त रहती है।

तनाव कम

मखाने के सेवन से तनाव दूर होता है और अनिद्रा की समस्या भी दूर रहती है। रात को सोने से पहले दूध के साथ मखानों का सेवन करें।

जोड़ों का दर्द दूर

मखाने में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है। इनका सेवन जोड़ों के दर्द, गठिया जैसे मरीजों के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है।

पाचन में सुधार

मखाना एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो सभी आयु वर्ग के लोगों को आसानी से पच जाता है। इसके अलावा फूल मखाने में एस्‍ट्रीजन गुण भी होते हैं जिससे यह दस्त से राहत देता है और भूख में सुधार करने के लिए मददगार है।

किडनी को मजबूत करता है

फूल मखाने में मीठा बहुत कम होने के कारण यह स्प्लीन को डिटॉक्‍सीफाइ करता है। किडनी को मजबूत बनाने और ब्‍लड को बेहतर रखने के लिए फूल मखानों का नियमित सेवन करें।

फूल मखाना

Cures Diabetes

हरे प्याज और कच्चे प्याज खाने से केन्सर और सुगर में फायदे

जानकारी हेतु, दिए गए लिंक पर क्लिक करें

https://7segment.co.in/हरे-और-कच्चे-प्याज-फायदे/

नवग्रह आश्रम की जानकारी हेतु, दिए गए लिंक पर क्लिक करें

To know more about Navgrah Ashram, Please click on the following link

अस्वीकरण

मैं अपने किसी भी हेल्थ मेसेज का 100% सही होने का दावा नहीं करता । इस टिप्स से काफी लोगों को फायदा हुआ है। कृपया आप किसी भी हेल्थ टिप्स का अपने ऊपर प्रयोग करने से पूर्व अपने वैद्यराज जी से राय लेवें ।

राजीव जैन
ट्रस्टी, नवग्रह आश्रम, भीलवाड़ा
राजस्थान

हमारे हेल्थ ग्रुप से जुड़ने के लिए हमे Whatsapp के द्वारा सूचित करें|

To join our health group, kindly notify us using WhatsApp.

0 0 vote
Article Rating

Spread the love
  •  
  • 23
  •  
  •  
  •  
    23
    Shares
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments